उत्तर- उत्तर- पूर्व दिशा में दवाओं को रखकर पाएँ बीमारियों से छुटकारा

vastu for medicine

माना जाता है कि स्वास्थ्य ही धन है,क्योंकि यह मन और शरीर का संतुलित स्तर है स्वास्थ्य का क्षेत्र शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के बीच संतुलन सुनिश्चित करता है,वहीं दवाईयों का काम हमें बीमारियों से बचाना या सुरक्षा दिलाना होता है, जब भी आप बीमार पड़ते हैं तो ये दवाईयां ही आपको स्वस्थ करने का काम करती है।

 

इस लिहाज़ से देखा जाए तो मेडिसिन की हमारे जीवन में काफी अहम भूमिका है, साथ ही वास्तु शास्त्र में दवाईयां रखने का सही स्थान का पता होना अति आवश्यक है,इसलिए दवाईयों का फ़ायदा तभी है जब इनको सही दिशा में रखा जाए।

 

तो आईये, महावास्तु की 16 दिशाओं के अनुसार जानते हैं कि दवाओं को रखने की सही दिशा कौन सी है_

 

उ.पू. (NE)

 

इस दिशा में भी दवाओं को रखा जा सकता है। इस ज़ोन में मेडिसिन रखने का कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता।

 

पू.उ.पू. (ENE)

 

 

 

दवाओं के रखने के लिए यह दिशा भी उपयुक्त है पू.उ.पू में दवाईयों को रखा जा सकता है।
पूर्व (East) इस ज़ोन में दवाओं को रखा जा सकता है यहाँ दवा रखने से कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है।
पू.द.पू.(ESE)

 

इस दिशा में रखी दवाईयां असरदार नहीं होती हैं इसलिए इस दिशा में दवाओं को रखने से बचें।
द.पू. (SE)

 

यदि आपने यहाँ दवाईयां रखी हैं तो बीमारियों को ठीक करने के लिए ज़्यादा मात्रा में दवाईयों की जरूरत पड़ेगी।
द.द.पू. (SSE)

 

अगर इस ज़ोन में दवाईयां रखी हैं तो घर के निवासियों को फिट और स्वस्थ रहने के लिए नियमित तौर पर इन्हें लेते रहना होगा।
दक्षिण (South) दक्षिण ज़ोन में यदि दवाइयां रखी हों तो घर में रहने वाले लोग तुरंत ठीक होने के लिए छोटे रोगों में भी मेडिसिन को प्राथमिकता देते हैं।
द.द.प. (SSW)

 

इस ज़ोन में रखी दवाईयां प्रभाव नहीं दिखातीं और यहां रखी दवाईयां अकसर खराब हो जाती हैं। इसलिए इस जोन में भी दवाईयों को रखने से परहेज करना चाहिए।

 

द.प (SW) दवाईयों के रखे जाने के लिए यह ज़ोन भी सही है।

 

प.द.प(WSW ) इस ज़ोन में भी मेडिसिन को रखा जा सकता है।

 

पश्चिम (W) पश्चिम में मेडिसिन का रखा जाना अच्छा माना जाता है।

 

प.उ.प (WNW) यह डिप्रेशन का ज़ोन है यदि यहाँ मेडिसिन रखी हों तो यहाँ रहने वाले लोग हमेशा नर्वस रहते हैं और मेडिसिन का प्रभाव भी कम हो जाता है।
उ.प (NW) अगर इस ज़ोन में दवाईयां रखी जाती हैं तो इन्हें लेने वाले लोग इनके बिना रह ही नहीं पाते एक तरह से कहें तो दवाईयों की लत लग जाती है।
उ.उ.प.(NNW) इस दिशा में दवाओं को रखा जाए तो वे ज्यादा प्रभावकारी होती हैं और हमें रोगों से जल्द से जल्द मुक्ति दिलाती हैं।
उत्तर (North) घर के उत्तर ज़ोन में दवाओं को रखा जा सकता।
उ.उ.पू (NNE) स्वास्थ्य और आरोग्य की इस दिशा में मेडिसिन अधिक प्रभावकारी होती हैं इस दिशा में दवाओं को रखने से पीड़ाओं और रोगों से तुरंत मुक्ति मिलती है।

 

 

इस तरह इस तालिका के द्वारा हम देखते हैं कि महावास्तु की 16 दिशाओं के अनुसार मेडिसिन रखने की सही दिशा का चयन करके आप ना केवल फिट स्वस्थ्य रह सकते हैं बल्कि दर्द और पीड़ाओं से भी मुक्ति पा सकते हैं,लेकिन आम व्यक्ति को यह बात पता नहीं होती है पर आप चाहे तो इसके लिए महावास्तु विशेषज्ञ की सलाह ले सकते हैं, साथ ही एक शॉर्ट टर्म कोर्स भी कर सकते हैं।

 

महावास्तु फ्री अड्वाइस पाएँ >

Share Article

Login with your MahaVastu ID

Left Menu Icon
Right Menu Icon